Friday, January 24, 2020

गठिया रोग एवं उसका उपचार,के.एम.सी. डिजिटल हॉस्पिटल महराजगंज



Arthritis (गठिया रोग)
आपके शरीर के जोड़ों में सूजन उत्पन्न होने पर गठिया होता है या आपके जोड़ों में उपास्थि (कोमल हड्डी) भंग हो जाती है, शरीर के जोड़ ऐसे स्थल होते हैं जहां दो या दो से अधिक हड्डियां एक दूसरे से मिलते हैं, जैसे कि कुल्हा या घुटने उपास्थि जोड़ों में गद्दे की तरह होती है जो दबाव से उनकी रक्षा करती हैं और क्रियाकलाप को सहज बनाती है  जब किसी जोड़ की  उपास्थि भंग हो जाती हैं  तो आप की हड्डियां एक दूसरे के साथ रगड़ खाती हैं इससे दर्द सूजन उत्पन्न होती है|

सबसे सामान्य तरह का गठिया  हड्डी का गठिया  होता है, इस तरह की गठिया में लंबे समय से उपयोग में लाए जाने अथवा व्यक्ति की उम्र बढ़ने की स्थिति में जोड़ घिस जाते हैं, जोड़ पर चोट लग जाने  से भी इस प्रकार का गठिया हो जाता है, हड्डी का गठिया अक्सर घुटने कुल्हे और हाथों में होता है,जोड़ो  में दर्द और स्थूलता  शुरू हो जाती है | समय-समय पर जोड़ों के आसपास के उत्तको  में तनाव होता है|  और उससे दर्द बढ़ता है|

गठिया उस  समय भी हो सकता है, जब प्रतिरोधक क्षमता प्रणाली , जो आमतौर से शरीर को संक्रमण से बचाती है , शरीर के ऊतकों पर वार कर  देती है | इस प्रकार की गठिया में रियुमेंटायड  गठिया सबसे सामान्य गठिया होती है| इससे जोड़ो  में लाली आ जाती है| और दर्द होता है और शरीर के दुसरे अंग भी इससे प्रभावित हो सकते है ,जैसे की ह्रदय पेशियाँ , रक्त वाहिकाएं ,तंत्रिका और आंखे इत्यादि |

गठिया के लक्षण:-
  • जोड़ों में दर्द |
  • जोड़ स्नथिर नहीं रहते हैं या ऐसे महसूस होता है कि यह सहारा नहीं देगा|
  • जोड़ बड़े हो जाते हैं या सूजन आ जाती है|
  • अक्सर सुबह के समय अकड़न|
  •  जोड़ का सीमित उपयोग|
  • जोड़ के आसपास गर्माहट|
  • जोड़ के आसपास की त्वचा पर ललिपन| 
जाचं:-
आपके डॉक्टर आपके स्वास्थ्य के बारे में आपसे बात करेंगे और आपके जोड़ देखेंगे| आपके डॉक्टर रक्त जांच एक्स-रे या दर्द वाले जोड़ के आसपास के द्रव के कुछ नमूना लेने के लिए कह सकते हैं|

इलाज़:-
गठिया का इलाज निम्न पर निर्भर है:-
  • कारण|
  •  कौन से जोड़ों में दर्द है|
  • गठिया आपकी दैनिक गतिविधियों को किस प्रकार प्रभावित करती है|
  •  आपकी आयु|
  •  आपका कार्य या गतिविधि|
  • आपका चिकित्सा से सुझाव दे सकता है| 
  •  दर्द और सूजन नियंत्रण करने के लिए दवाएं|
  • फिजियोथेरेपी
  • बाथटब या टॉयलेट के लिए सहायक उपाय जैसे की डंडी या पकड़ने वाली छड|
  • वजन कम करना|
  • पुराने की जगह नया जोड लगाने के लिए सर्जरी|
 इलाज के रूप में, आपको जरुरत पड सकती है:-
  • क्रिया और जोड़ की  शक्ति में सुधार के लिए फिजियोथेरेपी, अच्छे विकल्पों में टहलना ,तैरना, साइकिल चलाना इत्यादि |
  • किसी एक स्थिति  में अधिक लम्बे समय तक रहने से बचना |
जोड़ो से सम्बंधित दर्द या परेशानी से निजाद पाने के लिए संपर्क करे हड्डी एवं जोड़ रोग विभाग के.एम.सी. डिजिटल हॉस्पिटल महराजगंज  
  डॉ. गौरव मद्धेशिया (MS ORTHO) MS DNB ORTHOPEDIC
Fellowship in Joint Replacement Surgeon New Delhi & Dubai
                                     K.M.C. Digital Hospital

                    Mahuawa Farenda Road Maharajganj (U.P) 273303.
                         Website-www.kmchospitals.com email
                                 info@kmchospitals.com
                          kmcdigitalhospital.blogspot.com

0 comments:

Post a Comment